रिपब्लिकन पार्टी के नेता डोनाल्ड ट्रंप और राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच पहली प्रेसिडेंशिएल डिबेट हुई

5 नवंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव होने वाले है। इस चुनाव से पहले रिपब्लिकन पार्टी के नेता डोनाल्ड ट्रंप और राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच पहली प्रेसिडेंशिएल डिबेट हुई।हालांकि, इस डिबेट के बाद से यह कयास लगाए जा रहे है कि जो बाइडन राष्ट्रपति चुनाव से अपना नामांकन वापिस ले लेंगे। दरअसल, बाइडन ने अपनी पहली बहस में  डोनाल्ड ट्रंप की तुलना अच्छा प्रदर्शन नहीं दिया था। लगभग 90 मिनट तक चली इस बहस में बाइडेन लड़खड़ा गए थे।राष्ट्रपति जो बाइडन ने शुक्रवार को कसम खाई कि ‘मैं दौड़ में रहूंगा’। विस्कॉन्सिन में समर्थकों को दिए गए एक जोशीले भाषण के साथ साक्षात्कार में बाइडेन ने तर्क दिया कि 5 नवंबर के चुनाव में रिपब्लिकन डोनाल्ड ट्रम्प को व्हाइट हाउस में फिर से आने से रोकने के लिए वह सबसे अच्छे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हैं।

27 जून को ट्रम्प के साथ अपनी पहली बहस में बाइडन के ढीले प्रदर्शन ने 81 साल की उम्र में उनकी मानसिक सहनशक्ति को लेकर कुछ डेमोक्रेट्स के बीच गंभीर चिंताएं पैदा कर दीं थी। पार्टी में उन्हें पद से हटाने के लिए आंदोलन चल रहा है। आलोचकों ने चेतावनी दी है कि उन्हें लगभग निश्चित हार का सामना करना पड़ रहा है और वे अन्य डेमोक्रेट्स को भी अपनी हार के साथ घसीट सकते हैं। अगले सप्ताह वाशिंगटन लौटने पर हाउस डेमोक्रेट्स और सीनेटरों के एक समूह के इस विषय पर चर्चा करने की उम्मीद है।कुछ सर्वेक्षणों में पाया गया है कि तीन में से एक डेमोक्रेट चाहते हैं कि बाइडन दौड़ से हट जाएं। हालांकि, बाइडन ने कहा कि वे ट्रम्प का मुकाबला करने के लिए सबसे अच्छे उम्मीदवार हैं। शुक्रवार को बाइडन ने ट्रम्प की बुद्धिमत्ता पर सवाल उठाया और उन्हें झूठा कहा। इस बीच उन्होंने अपनी पार्टी के उन लोगों के लिए तीखे शब्द कहे जो 5 नवंबर को उन्हें जीत दिलाने की उनकी क्षमता पर संदेह करते हैं।

Related Articles