भाभी की डिलिवरी का बहाना बना दिल्ली ले गये जीजा के घर साली की संदिग्ध मौत 

अमेठी । उत्तर प्रदेश के अमेठी में भाभी की डिलिवरी का बहाना बनाकर साली को लेकर दिल्ली में जीजा के घर साली की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। देर रात जीजा साली के शव को प्राइवेट एम्बुलेंस से ले गया और शव को घर के बाहर रखकर फरार हो गया। इसकी सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है। ये मामला मुंशीगंज थाना क्षेत्र के पलिया गांव का है जहां के रहने वाले दिलीप कुमार ने अपनी बेटी नीतू की शादी अयोध्या जिले के बीकापुर थाना क्षेत्र के सहजपुर गांव में की थी। 

करीब 15 दिन पहले नीतू का देवर अंकित भाई की ससुराल पहुंचा और भाभी की डिलीवरी का बहाना बनाकर 22 वर्षीय साली दिव्यांशु को लेकर दिल्ली पहुंच गया। 5 जुलाई को पिता दिलीप को किसी अन्य से जानकारी मिली की दिव्यांशु की मौत हो गई है। यह जानकारी मिलने के बाद पिता ने जब अंकित को फोन किया तो अंकित ने बताया कि 4 जुलाई को दिव्यांशु ने फांसी के फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली है। देर रात अंकित दिल्ली से दिव्यांशु के शव को निजी एम्बुलेंस से लेकर पहुंचा और शव को घर के बाहर रखकर फरार हो गया। वहीं मृतका के चाचा जीत बहादुर का आरोप है कि बड़ी बेटी का देवर अंकित नौकरी के लिए दिव्यांशु को लेकर दिल्ली गया और उसकी हत्या कर दी। देर रात करीब 12 बजे प्राइवेट एम्बुलेंस से शव लेकर घर पहुंचा और शव को घर के बाहर रखकर मौके से फरार हो गया। मुंशीगंज कोतवाली में तहरीर दी गई लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। मृतका की बहन किरन ने कहा कि उसकी बहन का देवर झूठ बोलकर उसकी बहन को लेकर दिल्ली गया और उसे जहर खिलाकर फांसी के फंदे पर लटकाकर हत्या कर दी। मेरी मम्मी को भी मौके पर झूठ बोलकर बुलाया और बाद में जानकारी हुई कि उसकी हत्या कर दी गई है। मुझे न्याय चाहिए। इस मामले में मुंशीगंज कोतवाली थाना प्रभारी प्रेमचंद्र गौतम ने कहा कि तहरीर मिली है। मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजकर विधिक कार्रवाई की जा रही है।

Related Articles