दरोगा की वर्दी पहनकर वसूली करने वाली महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार 

गोरखपुर के सरहरी में दरोगा की वर्दी पहनकर वसूली करने वाली महिला को गुलरिहा थाने की पुलिस ने सोमवार की शाम गिरफ्तार कर लिया। बिहार के समस्तीपुर की रहने वाली आरोपी फुटपाथ पर दुकान लगाने वालों को डरा धमकाकर मुफ्त में सामान लेती थी। सरहरी क्षेत्र के मंगलपुर गांव में रहने वाली युवती को भी पुलिस ने हिरासत में लिया जो महिला के साथ घूमती थी।

स्थानीय लोगों की मानें तो वह युवती काे सिपाही बताती थी। पुलिस ने देर शाम युवती को भी हिरासत में ले लिया। दोनों से पूछताछ चल रही है। इस मामले में पुुलिस की ओर से जालसाजी का केस दर्ज किया गया है।

बिहार के समस्तीपुर जिले के जितवापुर की रहने वाली रेखा तिवारी का मायका कुशीनगर जिले में है। पिछले छह माह से वह बीआरडी मेडिकल काॅलेज के पीछे नारायनी काॅलोनी में किराए पर कमरा लेकर रहती थी। दरोगा की वर्दी पहनकर घूमने वाली रेखा स्थानीय लोगों को बताती थी कि वह पुलिस लाइंस में तैनात है।

वर्दी का रौब दिखाकर सरहरी के मंगलपुर गांव में रहने वाली युवती के साथ घूमकर वसूली करती थी। पुलिस की पूछताछ में पता चला कि वह ऐसे लोगों को निशाना बनाती थी जो आसानी से उसे रुपये दे दें। सोमवार को को वह महराजगंज चौराहे पर वसूली करने पहुंच गई थी।

स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों से की। जब सिपाही पहुंचे तो वर्दी पहनकर घूम रही रेखा भागने लगी। संदेह होने पर पुलिसकर्मियों ने उससे पहचान पत्र मांगने के साथ ही तैनाती स्थल के बारे में पूछा तो कोई जवाब नहीं दे पाई। इसके बाद सिपाही उसे चौकी पर ले आई।

संदेह होने पर बदल दिया था मकान

रेखा तिवारी ने बताया कि पहले वह सरहरी क्षेत्र में ही किराए पर कमरा लेकर रहती थी। वहां लोगों को शक हुआ तब उसने मकान बदल दिया था। एक बार वह सिफारिश लेकर सरहरी चौकी पर भी गई थी। पुलिसकर्मियों ने बैच के बारे में पूछा तो खुद को रैंकर दराेगा बताकर वहां से चली गई थी। सीओ गोरखनाथ योगेंद्र सिंह ने बताया कि महिला ने वर्दी कहां से खरीदी, अब तक कितने लोगों से ठगी व वसूली कर चुकी है इस बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया कि दरोगा की वर्दी पहनकर वसूली करने वाली रेखा तिवारी को गिरफ्तार किया गया है। इस महिला की काफी दिनों से शिकायत मिल रही थी। पूछताछ की जा रही है। उसके आपराधिक इतिहास का भी पता लगाया जा रहा है। सरहरी क्षेत्र के मंगलपुर गांव में रहने वाली युवती की भूमिका की भी जांच कराई जा रही है। इस मामले में पुलिस की ओर से जालसाजी का केस दर्ज किया गया है।

Related Articles