शराब घोटाला मामले में केजरीवाल को छोड़कर सभी आरोपियों की भूमिका की जांच पूरी

नई दिल्ली । केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने शनिवार को स्पष्ट किया कि दिल्ली शराब घोटाला मामले में अन्य सभी आरोपियों की भूमिका की जांच पूरी हो चुकी है और केवल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भूमिका की जांच की जा रही है। सीबीआई के वकील एडवोकेट डीपी सिंह ने आगे कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट को 4 जून के बाद हुए कुछ नए घटनाक्रमों के बारे में बताएंगे कि आखिर हमें अरविंद केजरीवाल को क्यों गिरफ्तार करना पड़ा? सीबीआई ने आगे कहा कि अभी सिर्फ केजरीवाल की भूमिका और जांच को आगे बढ़ाया गया है और बाकी आरोपियों के खिलाफ जांच लगभग पूरी हो चुकी है। सीबीआई ने आगे स्पष्ट किया कि सॉलिसिटर जनरल द्वारा पहले दिया गया बयान केजरीवाल को छोड़कर इस मामले में गिरफ्तार सभी आरोपियों से संबंधित था। इससे पहले 4 जून को, सुप्रीम कोर्ट ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा था कि उम्मीद है मामले में जांच पूरी की जाएगी और अंतिम शिकायत और आरोप पत्र शीघ्रता से और किसी भी कीमत पर 3 जुलाई, 2024 को या उससे पहले दायर किया जाएगा। उसके बाद, ट्रायल कोर्ट मुकदमे को आगे बढ़ाने के लिए स्वतंत्र होगा। मनीष सिसोदिया और के. कविता के वकीलों ने शनिवार को आरोप लगाया कि सीबीआई गलत बयान दे रही है और कोर्ट को गुमराह कर रही है। 22 मार्च को अदालत द्वारा पारित एक न्यायिक आदेश में यह नोट किया गया कि जांच पूरी हो गई थी। सीबीआई ने कोर्ट के सामने गलत कहा कि जांच पूरी हो गई है। आज स्थिति यह है कि जो स्टेटस रिपोर्ट दाखिल की गई है, वह इसके विपरीत है।

Related Articles