आसमान से आफत की बारिश तो नीचे कांप रही धरती

मुंबई। महाराष्ट्र प्रकृति की दोहरी मार झेल रहा है। यहां एक तो आसमान से आफत की बारिश हो रही है तो दूसरी तरफ भूकंप के झटकों ने और मुसीबत बढ़ा दी है। हिंगोली में बुधवार सुबह 7:15 बजे भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। इससे घबराए लोग तुरंत घरों से बाहर निकल आए। इस भूकंप की तीव्रता 4।5 मापी गई है। यहां कई जिलों में मंगलवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। इस भूकंप का केंद्र महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में जमीन से 10 किलोमीटर की गहराई पर था। इस भूकंप के झटके वाशिम जिले के रिसोड और वाशिम तालुका तक महसूस किए गए। यहां कई लोगों ने ज़मीन से रहस्यमय आवाज़ें आने का दावा भी किया। इससे लोगों में दहशत का माहौल है। उधर महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई सहित आसपास के कई जिलों में इन दिनों खूब मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हैं। मायानगरी से नाम से मशहूर मुंबई में भी सोमवार और मंगलवार को हुई बारिश से हवाई, रेल और सड़क यातायात बाधित हो गया था। मंगलवार को सुबह देश की आर्थिक राजधानी में बादल छाये रहे, लेकिन बारिश थम गई है। वहीं गोवा के कई हिस्सों में बुधवार को लगातार पांचवें दिन भी खूब झमाझम बारिश हो रही है। इस कारण से कई निचले इलाकों में पानी भर गया और राजधानी पणजी सहित दूसरे शहरों में सड़के समंदर में तब्दील दिखने लगी। इस बीच यहां पर्नेम टनल में एक बार फिर से पानी भर गया है। इस टनल में जलभराव से रेल सेवाएं पूरी तरह से ठप हो गया है। यहां कोंकण रेलवे ने वंदे भारत समेत कुल 9 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। वहीं टनल में पानी भरने से कुछ ट्रेनें रास्ते में अटक गई हैं।

Related Articles