निगम के रवैए से पार्किंग ध्वस्त व्यापारी हलाकान, निगम ने बिना प्लानिंग किया कार्य इसलिए हो रहीं फजीहत

बिलासपुर। शहर के भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र में नगर निगम द्वारा कबाड़ी की जगह पर गार्डन बनाए जाने के फैसले का विरोध बढ़ता जा रहा है। आम आदमी पार्टी की पूर्व विधानसभा प्रत्याशी डॉ. उज्ज्वला कराड़े ने नगर निगम की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए हैं और कहा है कि जिस स्थान पर गार्डन बनाया जा रहा है, वहां पार्किंग की जरूरत अधिक थी। इस क्षेत्र के व्यापारियों का भी मानना है कि गार्डन की जगह पार्किंग व्यवस्था होनी चाहिए थी। पुराने बस स्टैंड के आसपास सामान लोडिंग और अनलोडिंग के लिए भारी वाहन आते हैं। गार्डन बनने के कारण यहां लगभग 50 से अधिक दुकानों का रास्ता बंद जैसा हो जाएगा, जिससे आने-जाने वाले लोगों को परेशानी होगी। डॉ उज्वला ने बताया कि नगर निगम अधिकारियों का कहना है कि सूर्या होटल के सामने अवैध पार्किंग हटाकर 30 फीट चौड़ी सडक़ बनाई जाएगी, जिससे व्यापारियों को सुविधा होगी। हालांकि, व्यापारियों का कहना है कि शहर में गाडयि़ां और आबादी बढ़ रही हैं, लेकिन पार्किंग की व्यवस्था न होने से ट्रैफिक जाम की समस्या बढ़ती जा रही है। डॉ. उज्वला ने कहा कि नगर निगम की कार्यप्रणाली से व्यापारियों और आम जनता की मुश्किलें बढ़ जाएंगी। निगम ने जल्दबाजी में पार्किंग की व्यवस्था नहीं की, जिससे गाड़ी खड़ी करने पर पुलिस चालान काट रही है। पहले रोड की व्यवस्था की जानी चाहिए थी, मगर ऐसा नहीं करने पर सडक़ पर जाम लग रहा है। उन्होंने शासन से मांग की है कि गार्डन के स्थान पर पार्किंग स्थल बनाया जाए, जिससे व्यापारियों और आम जनता को राहत मिले। इस मुद्दे पर शहर के व्यापारियों ने भी डॉ. कराड़े का समर्थन किया है और नगर निगम से अपील की है कि वह शहर की वास्तविक जरूरतों को ध्यान में रखते हुए योजनाएं बनाएं। व्यापारियों का कहना है कि पार्किंग की समस्या का समाधान न होने से उनके व्यापार पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है।

Related Articles