National

बर्फबारी(Snowfall) के बाद गुलमर्ग में पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी

Snowfall: देश को मौसम बार बार करवट बदल रहा है कभी लगता है कि अब ठंड की विदाई है लेकिन दूसरे ही दिन मौसम विभाग से अपटेड आता है कि देश में वापस ठंड लौटन वाली है, बारिश हो सकती है, ओले पड़ सकते हैं। ऐसा ही कुछ अनिश्चित सा मौसम इस बार कश्मीर में भी देखा जा रहा है। कहा जाता है कि कश्मीर में धरती का स्वर्ग है और यदि यहां बर्फबारी हो जाए तो फिर क्या बात। इस बार कश्मीर में भी बर्फबारी का मौसम थोड़ा अनिश्चित सा रहा है। लेकिन अब दो महीने के इंतजार के बाद हुई बर्फबारी से धरती का स्वर्ग कहे जाने वाले जम्मू कश्मीर का गुलमर्ग प्रकृति प्रेमियों के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया है। कड़ाके की सर्दियों के दौरान बर्फबारी न होने के कारण लोगों को निराशा हाथ लगी थी। लोग बर्फबारी का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे और यह इंतजार आखिरकार जनवरी के अंत में खत्म हुआ, जिससे स्थानीय लोगों और पर्यटकों, दोनों के चेहरे पर खुशी लौट आई। देश-विदेश से सैकड़ों पर्यटक श्रीनगर से लगभग 50 किलोमीटर दूर गुलमर्ग के शांत वातावरण में परिवार के साथ बर्फबारी का आनंद लेने के लिए प्रसिद्ध स्की रिसॉर्ट आ रहे हैं। बर्फबारी के कारण दूर-दराज से पर्यटक बर्फीली ढलानों पर स्कीइंग करने और बर्फ से ढके पहाड़ों की शांत वादियों तथा मनोरम दृश्यों का आनंद लेने के लिए गुलमर्ग का रुख कर रहे हैं। पर्यटन विभाग के अनुसार इस बर्फबारी के बाद फरवरी के केवल छह दिनों के भीतर इस स्थान पर 19,532 पर्यटक आए हैं। विभाग के आंकड़ों के अनुसार एक से छह फरवरी तक 15,086 घरेलू पर्यटक, 4,290 स्थानीय और 156 विदेशी गुलमर्ग आए हैं। मध्य प्रदेश से आने वाले रोहित ने कहा, बर्फबारी न होने के कारण हमने कश्मीर में अपनी बुकिंग दो महीने के लिए रोक दी थी, लेकिन जैसे ही हमने बर्फबारी के बारे में सुना, हम कश्मीर की ओर दौड़ पड़े। बर्फबारी के कारण श्रीनगर की उड़ान रद्द होने के बाद रोहित कार से ही श्रीनगर आए। उन्होंने कहा, यहां वास्तव में स्वर्ग है, यह वास्तव में अत्यंत मनोहारी है, मैं पहली बार ऐसा कुछ देख रहा हूं। उन्होंने कहा कि गुलमर्ग की यात्रा के दौरान उन्होंने स्लेजिंग का भी आनंद लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button