हिंडनबर्ग के भंवर में फंसे अडानी ...शेयरों की कीमत आधी रह गई... लगातार गिरावट का दौर...

नई दिल्ली। हिंडनबर्ग की रिपोर्ट अडानी समूह के लिए कितनी घातक रही ,वो अब सामने आ रही है। अडानी समूह के बड़ा झटका लगा है। कंपनी के शेयरों में भारी बिकवाली हावी हो गई है। अडानी समूह की कंपनियों के शेयर लगातार गिर रहे हैं। शेयरों की कीमत आधी रह गई है। गौतम अडानी (Gautam Adani) का नेटवर्थ भी गिरकर 49 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। 24 जनवरी को शॉर्ट सेलर कंपनी हिंडनबर्ग की रिपोर्ट सामने आई, जिसके बाद से अडानी को झटके लग रहे है। लगभग एक महीने बाद अडानी का मार्केट कैप 132 अरब डॉलर तक गिर गया है। इस रिपोर्ट ने अडानी को जितना नुकसान पहुंचाया है, उतने में तो पाकिस्तान अपने विदेशी कर्ज से उबर आता। खस्ताहाल पाकिस्तान के लोग महीनों बैठकर खा सकते थे। 
हिंडनबर्ग की रिपोर्ट के आने के बाद से अब तक अडानी समूह का मार्केट कैप 132 अरब डॉलर तक गिर चुका है। कंपनी के शेयर गिर रहे है। निवेशकों का भरोसा जीतने के लिए अडानी समूह अपनी बैलेंस शीट को मजबूत बता रही है। अपने कर्ज का रीपेमेंट कर रही है। कर्ज का बोझ कर रही है। नई डील के बजाए कंपनी को मजबूती देने के लिए काम कर रही है। अगर अडानी को हुए घाटे की तुलना पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था से करें तो पाकिस्तान का विदेशी कर्ज लगभग 121.75 अरब अमेरिकी डॉलर का है। यानी जितने में पाकिस्तान अपना कर्ज चुका ले, उससे अधिक को अडानी पिछले एक महीने में गंवा चुके हैं। 

गौतम अडानी की दौलत रह गई आधी

गौतम अडानी की संपत्ति में बड़ी गिरावट आई है। फोर्ब्स रियल टाइम बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक गौतम अडानी की दौलत पिछले एक महीने में घटकर आधे से भी कम हो गई है। गौतम अडानी का नेटवर्थ जो जनवरी के पहले हफ्ते में 127 अरब डॉलर था, वो गिरकर अब 47 अरब डॉलर पर रह गया। एक दिन में गौतम अडानी की संपत्ति 2.8 अरब डॉलर घट गई। 

अडानी के शेयरों का हाल

सोमवार को हफ्ते के पहले कारोबारी दिन अडानी के शेयरों मे बिकवाली हावी रही। अडानी की फ्लैगशिप कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज के शेयर लाल निशान के साथ खुले। अडानी पावर, अडानी विल्मर, एनडीटीवी को छोड़कर बाकी कंपनियों के शेयरों में भारी गिरावट देखने को मिली है।

0/Post a Comment/Comments